Mattha Recipe in Marathi : Delicious Natural Treat For You| आपके लिए 1 स्वादिष्ट प्राकृतिक दावत

मट्ठा – एक दिलचस्प और पौष्टिक पेय

भारतीय साहित्य, संस्कृति और खान-पान का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। भारतीय भोजन में खासतर साउथ इंडियन और गुजराती साहित्य के तत्वों का महत्वपूर्ण स्थान है। एक ऐसा खास पेय जिसका हमारे देश में महत्वपूर्ण स्थान है वो है “मट्ठा”। मट्ठा एक प्रकार का दही पेय होता है, जिसे अनेक त्योहारों और खान-पान के साथ सेवन किया जाता है।

इस ब्लॉग पोस्ट में, हम आपको Mattha Recipe के बारे में जानकारी देंगे। हम आपको यह बताएंगे कि मट्ठा कैसे तैयार किया जाता है, इसके स्वादिष्ट और पौष्टिक लाभ क्या हैं, और कैसे आप इसे अपने घर पर बना सकते हैं। तो चलिए, हम इस स्वादिष्ट मट्ठा की रेसिपी की यात्रा पर निकलें और इसका आनंद लें!

सामग्री
(mattha recipe ingredients)

इस मट्ठा रेसिपी के लिए निम्नलिखित सामग्री की आवश्यकता होती है:

  1. दही (Curd) – 2 कप
  2. पानी (Water) – 1 कप
  3. हरा मिर्च (Green Chili) – 1 छोटी
  4. अदरक (Ginger) – 1 इंच की टुकड़ी
  5. हरा धनिया (Cilantro) – 2 टेबलस्पून, कटा हुआ
  6. जीरा पाउडर (Cumin Powder) – 1 छोटी चम्मच
  7. काला नमक (Black Salt) – 1/2 छोटी चम्मच
  8. नमक (Salt) – स्वाद के अनुसार
  9. हींग (Asafoetida) – 1 पिंच
  10. तेल (Oil) – 1 छोटी चम्मच
  11. कढ़ी पत्ते (Curry Leaves) – 4-5 पत्तियां
  12. जीरा (Cumin Seeds) – 1/2 छोटी चम्मच

यह सामग्री आसानी से घर पर मिल जाती है और मट्ठा बनाने के लिए आपकी रसोई में अधिकांश आपके पास ही होती है। तो चलिए, अगले चरण में हम देखेंगे कि कैसे इन सामग्रियों का उपयोग करके मट्ठा तैयार किया जाता है।

dahi mattha recipe in marathi बनाने की विधि

मट्ठा बनाना बहुत ही आसान है, और यहां हम आपको इसकी सटीक विधि बताएंगे:

Mattha Recipe सामग्री की तैयारी

  1. हरा मिर्च को बारीक काट लें। अदरक को छोटे टुकड़ों में काट लें।
  2. हरा धनिया को धोकर कटा हुआ रखें।

Mattha Recipe बनाना

  1. एक मिक्सिंग बाउल में दही और पानी को मिलाएं और अच्छी तरह से मिलाएं।
  2. अब इस मिश्रण में हरा मिर्च, अदरक, जीरा पाउडर, काला नमक, और नमक डालें।
  3. सभी सामग्री को अच्छी तरह से मिलाएं ताकि वे अच्छे से मिल जाएं।
  4. इसके बाद, मट्ठा को ठंडे पानी में रख दें और कुछ समय के लिए ठंडा होने दें।

तड़का देना

  1. एक छोटे पैन में तेल गरम करें।
  2. तेल गरम होने पर इसमें हींग, कढ़ी पत्ते, और जीरा डालें।
  3. इसे तड़का में डालें और मट्ठा पर डालें।

परोंठा या चावल के साथ परिपक्व करें

  1. मट्ठा को ठंडे पानी में से निकालकर परोंठे या चावल के साथ परिपक्व करें।
  2. सर्व करें, और मट्ठा पीने का आनंद उठाएं!

यही रही मट्ठा रेसिपी की आसान और स्वादिष्ट विधि! अब आप अपने परिवार और दोस्तों के साथ इस पौष्टिक पेय का आनंद उठा सकते हैं।

Mattha Recipe के साथ परिपक्व किया जाने वाला खाना

मट्ठा एक लोकप्रिय पेय है जो भारतीय उपमहाद्वीप में विभिन्न सांस्कृतिक और त्योहारों के साथ-साथ सेवन किया जाता है। यह एक स्वादिष्ट और पौष्टिक पेय होता है और इसे समर्थन के साथ परिपक्व किया जाता है।

1. परोंठा (Paratha):

  • मट्ठा के साथ परोंठा एक साधारण और स्वादिष्ट कॉम्बिनेशन है। गर्मा गर्म परोंठे के साथ मट्ठा का सेवन करना बहुत ही आनंददायक होता है।

2. चावल (Rice):

  • मट्ठा को चावल के साथ परिपक्व करना भी एक विकल्प हो सकता है। चावल के साथ मट्ठा खाने से वो स्वाद और आरामदायक होता है।

3. पूरी (Puri):

  • मट्ठा के साथ गरमा गरम पूरी सेवन करना एक अन्य लोकप्रिय विकल्प है। पूरी के साथ मट्ठा खाने से एक स्वादिष्ट और पौष्टिक भोजन होता है।

4. भटूरे (Bhature):

  • Mattha Recipe के साथ भटूरे खाना उत्तर भारतीय राज्यों में बहुत पसंद किया जाता है। यह एक विशेष तरह का कॉम्बिनेशन है जो खासतर सुबह के वक्त सर्व किया जाता है।

5. सब्जियां (Vegetables):

  • मट्ठा के साथ परिपक्व करने के लिए आप सब्जियों का सेवन भी कर सकते हैं, जैसे कि आलू की सब्जी, गोभी, या बैगन भर्ता। यह आपके परिपक्व किये गए मट्ठा के स्वाद को और भी बेहतर बना सकता है।

6. खिचड़ी (Khichdi):

  • Mattha Recipe के साथ खिचड़ी एक स्वादिष्ट और संतुलित भोजन हो सकता है। यह आपके पाचन को भी बेहतर बना सकता है।

Green Tea Recipe in Hindi – Combination of Health and Taste | हिन्दी में ग्रीन टी रेसिपी – स्वास्थ्य और स्वाद का योग 5 मिनट में बनाये

Mattha Recipe के साथ सर्वोत्तम खाद्य संयोजन

मट्ठा एक पौष्टिक और स्वादिष्ट पेय है, जिसे भारतीय खान-पान का महत्वपूर्ण हिस्सा माना जाता है। इसे सही संयोजन के साथ सेवन करने से आपका भोजन स्वादिष्ट और पौष्टिक होता है। निम्नलिखित हैं कुछ मट्ठा के साथ सर्वोत्तम खाद्य संयोजन के विकल्प:

1. परांठा (Paratha):

  • Mattha Recipe के साथ गरमा गरम परांठा खाना एक पूर्ण और संतुलित भोजन होता है। आप आलू परांठा, मूली परांठा, या गोभी परांठा चुन सकते हैं।

2. बाजरे की रोटी (Bajra Roti):

  • मट्ठा के साथ बाजरे की रोटी खाना एक स्वादिष्ट और पौष्टिक विकल्प हो सकता है, खासकर सर्दियों में।

3. तावा पुलाव (Tava Pulao):

  • Mattha Recipe साथ तावा पुलाव या तावा फ्राइड राइस खाना एक छोटा और आसान भोजन हो सकता है, जिसमें आप चावल को मिलाकर आलू, गोभी, और अन्य सब्जियों के साथ पकाते हैं।

4. आलू गोभी (Aloo Gobi):

  • मट्ठा के साथ आलू गोभी खाना एक साधारण और स्वादिष्ट विकल्प हो सकता है, जो भारतीय रसोई में पसंद किया जाता है।

5. मूंग दाल (Moong Dal):

  • Mattha Recipe के साथ मूंग दाल खाने से पौष्टिकता बढ़ती है और यह एक संतुलित भोजन होता है।

6. ताजा सलाद (Fresh Salad):

  • मट्ठा के साथ ताजा सलाद खाना बहुत ही सुखद हो सकता है। इसमें टमाटर, ककड़ी, और शिमला मिर्च को हरा धनिया और नमक के साथ मिलाकर तैयार किया जा सकता है।

Twinings Pure Green Tea, 100 Teabags, Green Tea, Perfectly Balanced & Refreshing

इन विकल्पों के साथ मट्ठा का सेवन करने से आपका भोजन स्वादिष्ट और पौष्टिक होता है और आपके स्वास्थ्य को भी फायदेमंद हो सकता है। यह खाने के साथ आपकी भोजन अनुभव को और भी बेहतर बना सकता है।

Mattha Recipe और भारतीय सांस्कृतिक दावतें

मट्ठा भारतीय सांस्कृतिक दावतों में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है और यह भारतीय समाज में साजने-सवरने के अवसरों पर महत्वपूर्ण है। यह पेय विभिन्न समाजिक और धार्मिक उत्सवों में पीने का एक बड़ा हिस्सा होता है और अत्यंत समर्पिता और आनंदपूर्ण माहौल बनाता है।

1. होली (Holi):

  • होली भारत का एक प्रमुख रंगों का त्योहार है, और इस दिन मट्ठा के साथ बालूद का सेवन किया जाता है। लोग इसे पीते हैं और दूसरे के ऊपर रंग फेकते हैं।

2. राखी बंधन (Raksha Bandhan):

  • राखी बंधन के अवसर पर बहनें अपने भाइयों को मट्ठा के साथ पूजा के रूप में प्रस्तुत करती हैं और उनकी सुरक्षा की कामना करती हैं।

3. करवा चौथ (Karwa Chauth):

  • करवा चौथ पर महिलाएं अपने पतियों के लिए व्रत रखती हैं और दिनभर बिना पानी पीती हैं। व्रत का तोड़ मट्ठा पीकर किया जाता है।

4. नवरात्रि (Navaratri):

  • नवरात्रि के दौरान लोग नौ दिनों तक उपवास करते हैं और इसका तोड़ Dahi Mattha Recipe के साथ किया जाता है। यह एक पौष्टिक पेय होता है जो उपवास के दौरान शक्ति देने में मदद करता है।

5. गर्बा रास (Garba Raas):

  • गुजराती समुदाय में गर्बा रास एक महत्वपूर्ण दांवत है, जिसमें लोग रात भर गर्बा नृत्य करते हैं और मट्ठा का सेवन करते हैं।

6. पूजा और व्रत (Pujas and Fasts):

  • भारतीय संस्कृति में अनेक पूजाओं और व्रतों में मट्ठा का सेवन अक्षम्य होता है, जैसे कि तुलसी पूजा, श्रावण सोमवार व्रत, और महाशिवरात्रि व्रत।

मट्ठा एक सांस्कृतिक और परंपरागत भारतीय पेय है जो भारतीय दावतों में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है और उन्हें और भी अधिक आनंदपूर्ण बनाता है।

मट्ठा रेसिपी में अपने स्वाद के अनुसार

मट्ठा एक खुद आपके स्वाद के अनुसार अनिवार्य बनाया जा सकता है। यह एक खुद बनाए जाने वाले पेय का आनंद लेने का सुनहरा अवसर है, जिसमें आप अपने पसंदीदा स्वाद को मिला सकते हैं। यहां कुछ दिए गए हैं जो आप मट्ठा रेसिपी में जोड़ सकते हैं:

1. खट्टा-मीठा

  • अपने मट्ठे को खट्टा-मीठा बनाने के लिए, आप थोड़ा सा चीनी और नींबू का रस डाल सकते हैं। यह ट्विस्ट मट्ठे को और भी रंगीन और आकर्षक बनाता है।

2. तंदूरी

  • तंदूरी मट्ठा बनाने के लिए, आप दही में तंदूरी मसाला, हल्दी, लाल मिर्च पाउडर, और दूसरे तंदूरी मसाले मिला सकते हैं। इससे मट्ठा का स्वाद और खुशबू बढ़ जाता है।

3. फलों का

  • मट्ठे को और अधिक स्वादिष्ट बनाने के लिए आप अपने पसंदीदा फलों का उपयोग कर सकते हैं। आप किसी भी फल का रस जैसे कि आम, अंगूर, नींबू, या पूँछ सकते हैं।

4. ताजा हर्ब्स:

  • मट्ठे को और भी रिच बनाने के लिए, आप ताजा हर्ब्स जैसे कि पुदीना, करी पत्ते, या धनिया का प्रयोग कर सकते हैं। इससे मट्ठा और भी फ्रेश और स्वादिष्ट होता है।

5. अलगी पेशकश:

  • आप अपने मट्ठे को अपने अलगी पेशकश के हिसाब से बना सकते हैं। यदि आपको अन्य सामग्री या मसालों में भी कोई खास पसंद हो, तो आप उन्हें डाल सकते हैं।

मट्ठा के गौरवशाली इतिहास और कथाएँ

मट्ठा एक प्राचीन और महत्वपूर्ण पेय है जिसका भारतीय सांस्कृतिक और ऐतिहासिक महत्व है। यहां कुछ मट्ठा के गौरवशाली इतिहास और कथाएँ हैं:

1. भारतीय धार्मिक और पौराणिक महत्व:

  • मट्ठा को भारतीय धार्मिक पौराणिक ग्रंथों में महत्वपूर्ण भूमिका मिलती है। इसे पूजा के लिए उपयोग किया जाता है और यह धार्मिक त्योहारों में अद्भुतता और साहित्यिक गौरव का प्रतीक होता है।

2. मट्ठा और भारतीय समाज:

  • मट्ठा भारतीय समाज में समाजिक और आर्थिक दृष्टि से महत्वपूर्ण होता है। यह समाजिक मेलजोल, सम्मान, और साझेदारी का प्रतीक है और लोग इसे साथ में पीने का आनंद लेते हैं।

3. मट्ठा की कथाएँ:

  • भारतीय लोककथाओं में मट्ठा की कथाएँ भी मिलती हैं, जिनमें इसका उपयोग जादू और आश्चर्यजनक प्रभाव के रूप में किया जाता है।

4. मट्ठा के सांस्कृतिक आयाम:

  • मट्ठा के साथ सांस्कृतिक आयाम भी जुड़े होते हैं, जैसे कि गर्मियों में मट्ठा की ठंडक से जुड़ी ख़ुशबूरहित फिल्म और संगीत की प्रस्तुतियां।

5. मट्ठा के प्रसार:

  • मट्ठा का सेवन अब विश्वभर में फैल चुका है और यह भारतीय सांस्कृतिक महत्व को विश्व में प्रस्तुत करता है।

Mattha Recipe के गौरवशाली इतिहास और कथाएँ भारतीय समाज और संस्कृति के हिस्से के रूप में महत्वपूर्ण हैं और यह इस पेय के महत्व को प्रमोट करते हैं।

Mattha Recipe का समापन

Mattha Recipe एक स्वादिष्ट और पौष्टिक पेय है जो भारतीय सांस्कृतिक और रास्त्रीय परंपरा का महत्वपूर्ण हिस्सा है। यह प्रत्येक गर्मी के दिन में आनंद और आराम का स्रोत होता है, और इसे अनेक खास अवसरों पर साझा किया जाता है।

मट्ठा बनाने के लिए आपको दही, पानी, नमक, हरा धनिया, जीरा, और हरी मिर्च का मिश्रण तैयार करना होता है। यह खुद आपके स्वाद और पसंद के हिसाब से बनाया जा सकता है, और आप इसमें विभिन्न ट्विस्ट्स भी दे सकते हैं।

मट्ठा का सेवन आपके स्वास्थ्य के लिए भी फायदेमंद होता है, इसके साथ ही यह भारतीय सांस्कृतिक और समाजिक दावतों में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

आप अपने परिवार और दोस्तों के साथ मट्ठा का आनंद उठाएं और इसे खुद के स्वाद के अनुसार तैयार करें। यह एक स्वादिष्ट, पौष्टिक, और राहतभरा पेय होता है जो भारतीय बाजारों में आसानी से मिलता है।

mattha recipe के साथ, आपका मट्ठा बनाने का सफर समाप्त होता है। अपने स्वाद का आनंद लें और इस प्रिय पेय का सेवन करने का आनंद उठाएं!

Mattha Recipe और स्वादिष्ट अनुभवों का साझा करें

बिना देर किए, यहां एक संग्रहित मट्ठा रेसिपी और स्वादिष्ट अनुभवों का साझा कर रहा हूँ:

mattha recipe

सामग्री:

  • 2 कप दही
  • 1/2 कप पानी
  • 1 छोटा चम्मच नमक (स्वाद के अनुसार बढ़ाई जा सकती है)
  • 1/2 छोटा चम्मच जीरा पाउडर
  • 1/2 छोटा चम्मच धनिया पाउडर
  • 1 हरी मिर्च, कटी हुई
  • 2 टेबलस्पून हरा धनिया, कटा हुआ
  • कुछ मिर्च पाउडर (वैकल्पिक)

निर्माण:

  1. सबसे पहले, दही को एक बड़े बाउल में लें और उसे फेंटे।
  2. अब पानी डालें और दही को बराबरी से मिलाएं, ताकि एक हॉमोजेनस मिश्रण बन जाए।
  3. अब नमक, जीरा पाउडर, धनिया पाउडर, हरी मिर्च, और कटा हुआ हरा धनिया डालें।
  4. सभी सामग्री को अच्छी तरह से मिला लें और मट्ठा की तैयारी पूरी करने के लिए रख दें।
  5. अगर आपको ज्यादा तीव्रता चाहिए तो कुछ मिर्च पाउडर डाल सकते हैं।
  6. अब मट्ठा को ठंडे पानी के साथ रखें और कुछ ही घंटों के लिए ठंडे में रखें ताकि यह ठंडा हो सके।
  7. मट्ठा ठंडा हो जाने पर फिर से आच्छा मिलाकर सर्व करें और तैयार है!

स्वादिष्ट अनुभव:

मट्ठा का स्वाद अद्वितीय होता है। यह ठंडा, क्रीमी, और मिल्ड होता है, जिसमें दही का स्वाद और मसालों का अद्वितीय मिलान होता है। यह आपके भोजन को और भी स्वादिष्ट बना देता है और गर्मियों में ठंडाई की तरह राहत प्रदान करता है।

मट्ठा को ताजगी और स्वादिष्टता के साथ सर्व करें, और इसके साथ परांठे, पकोड़े, या अपने पसंदीदा नमकीन साथ सर्व करें। यह एक साजने-सवरने के अवसरों में परिवार और दोस्तों के साथ मिलकर खाने का एक महत्वपूर्ण हिस्सा बना सकता है।

mattha recipe का भारतीय स्वाद का आनंद लें

बिल्कुल, भारतीय स्वाद का आनंद लेना अद्वितीय और आनंददायक होता है! भारतीय खाने का खजाना अत्यंत विविध होता है, और यहां कुछ प्रमुख भारतीय स्वाद के आनंद लेने के तरीके हैं:

1. समोसा:

  • समोसा भारतीय स्नैक्स का राजा है। इसमें मसालेदार आलू या मिट्टी के आलू का मिश्रण होता है जो फ्राइ करके स्वादिष्ट होता है। आप इसे हर एक छोटे खाने के बाद या चाय के साथ निभा सकते हैं।

2. बिरयानी:

  • बिरयानी भारतीय खाने का एक अद्वितीय और रुचिकर प्रकार है। यह चावल, मसाले, और अलग-अलग प्रकार के दाने जैसे कि पानी में भिगोकर उबाले जाते हैं। यह एक समृद्ध और आरामदायक भोजन होता है।

3. दोसा और इडली:

  • दक्षिण भारत की प्रमुख पकवान, दोसा और इडली उत्तर भारत में भी पसंद किए जाते हैं। इन्हें फर्मेंटेड बैटर से बनाया जाता है, और इन्हें सांभर और चटनी के साथ सर्व किया जाता है।

4. बटर चिकन:

  • बटर चिकन एक दिलचस्प और स्वादिष्ट भारतीय पकवान है, जिसमें तंदूरी चिकन को मसालेदार बटर सॉस में पकाया जाता है।

5. गोलगप्पे:

  • गोलगप्पे या पानीपूरी एक पॉपुलर स्ट्रीट फूड हैं जिन्हें भारत के हर कोने में पसंद किया जाता है। यह छोटी गोलीयों में होते हैं जिन्हें अलू, टमाटर पुदीना की चटनी, और पानी में भिगोकर खाया जाता है।

भारतीय स्वाद का आनंद लेने के लिए आप जितनी भी विविधता वाले खाद्य पदार्थ हैं, उन्हें अपने स्वाद के अनुसार चुन सकते हैं। यह खाना एक साझाकरने के मौके को और भी स्पेशल बना सकता है और आपके खाने के साथ समृद्ध और संतोषपूर्ण अनुभव का आनंद लेने में मदद कर सकता है।

mattha recipe का संपूर्ण सारांश:

  • समोसा: समोसा भारतीय स्नैक्स का राजा है, जिसमें मसालेदार आलू या मिट्टी के आलू का मिश्रण होता है। आप इसे हर एक छोटे खाने के बाद या चाय के साथ निभा सकते हैं।
  • बिरयानी: बिरयानी एक अद्वितीय और रुचिकर प्रकार का भारतीय खाना है जिसमें चावल, मसाले, और अलग-अलग प्रकार के दाने जैसे कि पानी में भिगोकर उबाले जाते हैं। यह एक समृद्ध और आरामदायक भोजन होता है।
  • दोसा और इडली: दक्षिण भारत की प्रमुख पकवान, दोसा और इडली उत्तर भारत में भी पसंद किए जाते हैं। इन्हें फर्मेंटेड बैटर से बनाया जाता है, और इन्हें सांभर और चटनी के साथ सर्व किया जाता है।
  • बटर चिकन: बटर चिकन एक दिलचस्प और स्वादिष्ट भारतीय पकवान है, जिसमें तंदूरी चिकन को मसालेदार बटर सॉस में पकाया जाता है।
  • गोलगप्पे: गोलगप्पे या पानीपूरी एक पॉपुलर स्ट्रीट फूड हैं जिन्हें भारत के हर कोने में पसंद किया जाता है। यह छोटी गोलीयों में होते हैं जिन्हें अलू, टमाटर पुदीना की चटनी, और पानी में भिगोकर खाया जाता है।

भारतीय रसोई के अन्य उपयोगी टिप्स:

  1. धान्य और दालों को धोना: धान्य और दालों को अच्छे से धोने के लिए इन्हें पानी में डालकर अच्छी तरह से उबालें और फिर छलने के बाद सूखने दें।
  2. मसालों का सही संग्रहण: मसालों को सुरक्षित और ताजगी के साथ रखने के लिए उन्हें बंद करके रखें और सूखे स्थान पर रखें।
  3. घी का सही तरीके से तैयारी: भारतीय खाने में घी का महत्वपूर्ण स्थान है। घी को निम्नलिखित तरीके से तैयार करें:
    • देसी घी: देसी घी को मक्खन या लॉनी की तरह बनाने के लिए मलाई को उबालकर निकालें और इसे संतृप्त गर्मी पर ठंडा होने दें।
    • वेजिटेबल घी: वेजिटेबल घी को तब्दील करने के लिए ताजा सब्जियों को घी में पकाएं।
  4. पानी का उपयोग: भारतीय रसोई में भिन्न-भिन्न प्रकार के पानी का उपयोग होता है। आपके पानी के विभिन्न प्रकार के उपयोग को समझने और सही तरीके से उपयोग करने का प्रयास करें।
  5. बर्तन साफ़ रखें: रसोई में बर्तन साफ़ रखने और नियमित रूप से धोने के लिए समय समय पर ध्यान दें।
  6. समय के साथ सेवन: भारतीय रसोई में ताजाई की ज़रूरत होती है, इसलिए पाक बनाते समय ध्यानपूर्वक तरीके से समय पर सेवन करें।
  7. आपके स्वाद के अनुसार अनुकूलित करें: भारतीय पकवानों में अपने स्वाद के अनुसार मसाले और तरीके को अनुकूलित करने का आनंद लें। आप अपने पसंदीदा पकवानों में अपने आदत और स्वाद के हिसाब से बदलाव कर सकते हैं।
  8. स्वादिष्ट और स्वस्थ भोजन: स्वादिष्ट और स्वस्थ भोजन को सेवन करने के लिए अपने भोजन में सब्जियां, फल, और फाइबर युक्त आहार को शामिल करें।
  9. रसोई के नियमित सफाई: अपनी रसोई को नियमित रूप से साफ़ करें और सभी खाद्य सामग्री को अच्छी तरह से संरक्षित रखें।
  10. रसोई में स्वच्छता: भारतीय रसोई में स्वच्छता को महत्वपूर्ण माना जाता है। समय-समय पर हाथ धोने और रसोई को साफ़ रखने का ध्यान दें।

Leave a Comment