Besan Ki Kadhi | Besan Ki Kadhi Recipe |Besan ki kadhi Ingredients |Besan ki kadhi Banane Ka Tarika|खट्टी मीठी बेसन कढ़ी: एक खास दादी-नानी की खास रेसिपी

Besan Ki Kadhi | Besan Ki Kadhi Recipe |Besan ki kadhi Ingredients |Besan ki kadhi Banane Ka Tarika| हिंदी भाषा में “कढ़ी” एक ऐसा व्यंजन है जो हमारी परंपराओं और स्वादों का प्रतीक है। यह खासतर सुखद और स्वादिष्ट होती है, और इसे विभिन्न रूपों में बनाया जाता है। आज हम एक खास वैशेषिकता वाली “आलू की खट्टी मीठी बेसन कढ़ी” की रेसिपी के बारे में बात करेंगे, जो हमारे दादी-नानी के खास रेसिपी है।

बेसन कढ़ी का महत्व: बेसन कढ़ी एक ऐसा व्यंजन है जो हमारे भारतीय घरों में आमतौर पर बनता है, और इसका स्वाद हमारी जीवनशैली में आत्मिकता और आत्म-समर्पण की भावना को जगाता है। यह हमारे दिल को छू लेने वाली रुचि होती है और खासतर परिवार के सभी सदस्यों के बीच मिलकर खाई जाती है।

बेसन कढ़ी की रेसिपी की विस्तार से जानने का मौका मिलेगा, जिसमें हम देखेंगे कि इसे कैसे बनाया जाता है, इसके स्वादिष्ट अनुभव का आनंद लेंगे, और इसके साथ कितने सारे स्वास्थ्य लाभ होते हैं।

Besan ki kadhi
Besan ki kadhi Ingredients

Besan ki kadhi Ingredients

कढ़ी बनाने के लिए आपको निम्नलिखित सामग्री की आवश्यकता होती है:

1. बेसन: 1 कप (लगभग 150 ग्राम)
2. दही: 2 कप (लगभग 400 मिलीलीटर)
3. पानी: 3 कप (लगभग 600 मिलीलीटर)
4. आलू: 2 छोटे आकार के, कटे हुए
5. तेल: 2-3 टेबलस्पून
6. राई: 1 छोटी चम्मच
7. हींग: 1/4 छोटी चम्मच
8. मेथी दाना: 1/2 छोटी चम्मच
9. हल्दी पाउडर: 1/2 छोटी चम्मच
10. लाल मिर्च पाउडर: 1/2 छोटी चम्मच
11. साल्ट: स्वाद के अनुसार
12. कढ़ी पत्ता: 4-5 पत्तियां
13. हरी मिर्च: 1-2, कटी हुई (वैकल्पिक)

यह सामग्री आपको एक स्वादिष्ट और पौष्टिक Besan Ki Kadhi बनाने के लिए आवश्यक होगी। आप इसे अपने रसोई में आसानी से उपलब्ध कर सकते हैं।

Organic Tattva, Organic Besan,

Besan ki kadhi Banane ki Vidhi

  1. बेसन का बना देना:
    • सबसे पहले, एक बड़े बाउल में 1 कप बेसन लें।
    • इसमें 2 कप दही डालें और अच्छी तरह से मिला लें, ताकि कोई गांठ न बने।
    • अब इसमें 3 कप पानी मिलाएं और फिर से मिलाएं।
  2. आलू की तैयारी:
    • एक पैन में 2-3 टेबलस्पून तेल गरम करें।
    • इसमें 1/4 छोटी चम्मच राई, 1/4 छोटी चम्मच हींग और 1/2 छोटी चम्मच मेथी दाना डालें।
    • तेल में राई की फटक के बजाय करने पर आवाज आएगी, और यह समय है कि आप आलू डालें।
    • आलू को हल्दी पाउडर, लाल मिर्च पाउडर, और साल्ट के साथ मिलाकर अच्छी तरह से ब्राउन होने तक तलें।
  3. बेसन मिश्रण में मिलाना:
    • अब तैयार किया हुआ आलू तेल से निकालकर बेसन के मिश्रण में मिलाएं।
    • अच्छी तरह से मिलाने के बाद, इसे ब्रिंगल कर आग पर रखें।
  4. कढ़ी की तैयारी:
    • अब ब्रिंगल कर बने हुए मिश्रण में डालें और धीमी आंच पर पकाएं, बिना बोलिंग होने तक।
    • इसे चलते रहें ताकि बेसन ठीक से गल जाए और कढ़ी गाढ़ी हो जाए।
    • अब कढ़ी पत्तियां डालें और थोड़ी देर और पकाएं, ताकि वे मीठी और स्वादिष्ट हो जाएं।
  5. तड़का देना:
    • एक छोटे पैन में तेल में हींग, राई, और हरी मिर्च को तड़का दें।
    • तड़का को कढ़ी पर डालें और तड़का होने तक दरवाजा बंद रखें।
  6. परोसना:
    • आपकी आलू की खट्टी मीठी बेसन कढ़ी तैयार है।
    • इसे गरमा गरम चावल या चपाती के साथ परोसें।
    • अगर आप चाहें, तो इसे पापड़, अचार और धनिया पत्ती से सजा सकते हैं।

इस रूप में, आपकी खास दादी-नानी की खट्टी मीठी Besan Ki Kadhi Recipe तैयार है, जो आपके परिवार और दोस्तों को खुश करेगी। इसकी आराम से बनने वाली रेसिपी और बेहद स्वादिष्ट स्वाद आपको यह व्यंजन बार-बार बनाने की प्रोत्साहित करेगा।

Palak Pakoda | Palak Pakoda Ingredients |Spinach Pakora |क्या पालक पकोड़ा स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकता है?

Besan Ki Kadhi Recipe, साथ में परोसें

आपकी आलू की खट्टी मीठी बेसन कढ़ी को परोसने के लिए कुछ विकल्प हैं, जो आप अपने खाने के साथ सर्वाधिक आनंद उठा सकते हैं।

  1. चावल के साथ:
    • यह बेसन कढ़ी के साथ चावल एक लाजवाब कॉम्बो होता है।
    • गरमा गरम चावल के साथ कढ़ी को परोसें और खासतर गर्मियों में यह स्वादिष्ट होता है।
  2. चपाती के साथ:
    • आप इस कढ़ी को चपाती के साथ भी परोस सकते हैं।
    • चपाती के साथ कढ़ी का स्वाद अलग होता है और यह एक सामान्य भोजन हो सकता है।
  3. पापड़, अचार और धनिया पत्ती सहित:
    • अगर आप थोड़ा और चटकारेदार स्वाद चाहते हैं, तो कढ़ी के साथ पापड़, अचार और कटी हुई धनिया पत्ती सर्व करें।
    • यह विकल्प कढ़ी को और भी आकर्षक बना सकता है।
  4. पूरी के साथ:
    • यदि आप आलू पूरी के प्रशंसक हैं, तो इस कढ़ी को पूरी के साथ परोसें।
    • पूरी के साथ कढ़ी का संयोजन खासतर स्वादिष्ट होता है और उसका स्वाद अनमोल होता है।

आप इन विकल्पों में से किसी को भी चुन सकते हैं और आलू की खट्टी मीठी बेसन कढ़ी का आनंद उठा सकते हैं, जैसा कि आपके परिवार और दोस्तों को अच्छा लगे।

Namkeen Daliya Banane ki Recipe | Daliya Kaise Banta Hai |नमकीन दलिया बनाने की रेसिपी: स्वादिष्ट और सेहतमंद खाना

Besan ki kadhi kaise Banaen, सुझाव और टिप्स

कढ़ी बनाने में आपको कुछ तरीके और सुझाव जरूरी हो सकते हैं, जो इसे और भी स्वादिष्ट बना सकते हैं:

  1. बेसन की गांठों से बचाव: बेसन को दही में मिलाने से पहले, इसे अच्छे से छलने या छलने के माध्यम से गांठों से मिलाने का प्रयास करें।
  2. पानी की मात्रा: कढ़ी की गाढ़ी या पतली टेक्स्चर को आपकी पसंद के अनुसार बनाने के लिए पानी की मात्रा को समय-समय पर समीक्षा करें।
  3. कढ़ी पत्तियों का उपयोग: कढ़ी पत्तियों का उपयोग खट्टी मीठी खुशबूदारी देने के लिए करें। इसे बनाने के बाद ही डालें ताकि यह स्वादिष्टता में बढ़ोतरी कर सके।
  4. वर्मिक्स का उपयोग: कढ़ी को बिना अवर्मिक्स के ही चलाने से खुशबूदार और गाढ़ी बनाने का प्रयास करें।
  5. विशेष गरम मसाले: अपने पसंदीदा गरम मसालों का उपयोग करके कढ़ी को और भी स्वादिष्ट बना सकते हैं।
  6. तड़का: तड़का बनाने में समर्थन करने के लिए हरी मिर्च, हींग, और राई का उपयोग करें।
  7. सेविंग आइडिया: कढ़ी को परोसते समय उसे पुलाओ, चावल, या परांठों के साथ परोसने का विचार करें।
  8. स्वाद में सुधार: आपके स्वाद के अनुसार नमक, मिर्च, और लाल मिर्च पाउडर की मात्रा को समीक्षा करें और उसे अपने पसंद के अनुसार समर्थन करें।
  9. सही पोषण: कढ़ी में बेसन, दही, और आलू का संयोजन आपके आहार को पौष्टिक बनाता है, लेकिन सवाधानी बरतें क्योंकि यह अधिकतम खाने में अच्छा है।

इन सुझावों का पालन करके आप अपनी कढ़ी को और भी स्वादिष्ट और लाजवाब बना सकते हैं, और आपके परिवार और दोस्त इसे खाने का आनंद उठा सकते हैं।

Besan ki Kadhi khane ke Fayde

कढ़ी के साथ आने वाले अच्छे स्वास्थ्य लाभ के कुछ मुख्य फायदे हैं, जो हम यहां पर देखेंगे:

1. पाचन में मददगार: कढ़ी में दही की बर्तन्ती मात्रा होती है, जिसमें प्रोबायोटिक्स होते हैं। ये प्रोबायोटिक्स पाचन को सुधारते हैं और पेट के अच्छे बैक्टीरिया को बढ़ावा देते हैं।

2. सुखद ताजगी: कढ़ी में हरी मिर्च, हींग और कढ़ी पत्तियों जैसे मसालों का उपयोग होता है, जो खाने का स्वाद बढ़ाते हैं और पाचन को बेहतर बनाते हैं।

3. प्रोटीन स्रोत: दही कढ़ी का एक महत्वपूर्ण सामग्री होता है, और इसमें प्रोटीन की अच्छी मात्रा होती है, जो हमारे शरीर के निर्माण के लिए महत्वपूर्ण है।

4. हार्ट हेल्थ: कढ़ी में दही के प्रोबायोटिक्स हृदय के स्वास्थ्य को सुधारने में मदद कर सकते हैं, और रक्तचाप को नियंत्रित करने में मदद कर सकते हैं।

5. सार्विक स्वास्थ्य: कढ़ी में मौजूद सारे आलू, बेसन और मसाले हमारे सार्विक स्वास्थ्य को बढ़ावा देने में मदद करते हैं, और शरीर को आवश्यक पोषण प्रदान करते हैं।

इन स्वास्थ्य लाभों के साथ, कढ़ी हमारे आहार का महत्वपूर्ण हिस्सा बन सकती है और हमारे स्वास्थ्य को सुधारने में मदद कर सकती है। इसलिए, आपके खाने में यह स्वादिष्ट व्यंजन शामिल करने से आपके और आपके परिवार के स्वास्थ्य को बेहतरीन फायदा हो सकता है।

निष्कर्षण

इस ब्लॉग पोस्ट में, हमने बेसन की कढ़ी के बारे में विस्तार से बताया है, जो एक पौष्टिक और स्वादिष्ट भारतीय व्यंजन है। यह रेसिपी बहुत ही सामान्य सामग्रियों से बनती है और इसे घर पर बनाना आसान होता है।

हमने आपको यहां बेसन की कढ़ी बनाने की सही विधि और सामग्री के बारे में जानकारी प्रदान की है, जो आपको इस व्यंजन को बनाने में मदद करेगी। हमने यह भी बताया कि इसे कैसे परोसा जा सकता है और कैसे इसके साथ अच्छे स्वास्थ्य लाभ हो सकते हैं।

कढ़ी एक व्यापक भारतीय खाने का हिस्सा है और besan ki kadhi recipe in hindi यह खासतर हिन्दी भाषी पाठकों के लिए एक आत्मसात का स्रोत हो सकता है। इसका स्वाद और पौष्टिकता उन्हें इस व्यंजन के प्रति आकर्षित कर सकता है।

Besan Ki Kadhi Recipe, के FAQs

Q.1 क्या मैं दही की जगह छाछ का उपयोग कर सकता हूँ?

Ans. हाँ, आप दही की जगह छाछ का उपयोग कर सकते हैं। यह आपकी कढ़ी को और भी ताजगी और खुशबूदार बना सकता है।

Q.2 Besan ki Kadhi को कितने समय तक पकाना चाहिए?

Ans. कढ़ी को धीमी आंच पर बिना बोलिंग होने तक पकाएं, यानी लगभग 20-25 मिनट।

Q.3 क्या मैं Besan ki Kadhi में सब्जियां डाल सकता हूँ?

Ans. हाँ, आप इसमें अपनी पसंदीदा सब्जियां जैसे कि गोभी, बैंगन, और भिंडी डाल सकते हैं। यह रेसिपी विविधता को बढ़ावा देने के लिए अच्छी है।

Q.4 Besan ki Kadhi को बचे हुए रख सकते हैं क्या?

Ans. हाँ, आप कढ़ी को फ्रिज में बचे हुए रख सकते हैं, लेकिन जब आप उसे फिर से गरम करें, तो थोड़ा पानी डालकर मिलाना जरूरी होगा।

Q.5 क्या कढ़ी को बच्चों को दे सकते हैं?

Ans. हाँ, आप कढ़ी को बच्चों को दे सकते हैं, लेकिन अगर वे थोड़े से टीका कर रहे हैं तो मसालेदार कढ़ी को कम करने के लिए सावधान रहें।

Q.6 कढ़ी का सर्वाधिक स्वादिष्ट साथी क्या है?

Ans. कढ़ी को चावल, परांठा, और पूरी के साथ परोसने का स्वाद सबसे अच्छा होता है।

Q.7 कढ़ी के स्वाद में सुधार के लिए कुछ सुझाव?

Ans. अपने स्वाद के अनुसार नमक, मिर्च, और मसाले की मात्रा को समीक्षा करें और उसे अपने पसंद के अनुसार समर्थन करें।

Leave a Comment